hp district area wise

हिमाचल प्रदेश के 12 जिलों के क्षेत्रफल

हिमाचल प्रदेश के जिलों के क्षेत्रफल

चम्बा का क्षेत्रफल      – 6528km2

कांगड़ा      – 5739 km2

लाहुल स्पिति    – 13835 km2

कुल्लू    – 5503 km2

मंडी    – 3950 km2

हमीरपुर  – 1118 km2

ऊना     – 1540 km2

बिलासपुर    –  1167 km2

सोलन     – 1936 km2

सिरमौर     – 2825 km2

शिमला     – 5131 km2

किन्नोर     – 6401 km2

 

तिब्बत की सीमाएं लाहौल स्पिति और किनौर के साथ 200 km हैं 

 

  • हिमाचल प्रदेश की पर्वत श्रीखलाएं

समुद्रतल से हिमाचल प्रदेश की ऊंचाई 350 मीटर से 7000 मीटर के बीच है

 

निम्न पर्वत श्रेणी

इस श्रेणी को शिवालिक पर्वत भी कहा जाता है इसकी समुद्रतल से ऊंचाई 350 मीटर से 1500 मीटर के बीच है

पुराने समय में शिवालिक को मेनाक पर्वत भी कहा जाता था

काँगड़ा हमीरपुर ऊना बिलासपुर मंडी सोलन तथा सिरमौर के निचले क्षेत्र आते हैं

मक्की, गेहूं, अदरक, धान

 

मध्य पर्वत श्रेणी

इस पर्वत श्रृखला में सिरमौर की रेणुका पछाद मंडी जिले की चच्योट करसोग चम्बा की चुराह पालमपुर की तहसील शामिल है इसकी समुद्रतल से ऊंचाई 1500 मीटर से लेकर 4500 मीटर है

 

धौलाधार पर्वत श्रेणी कांगड़ा कांगड़ा जिले में पाई जाती है जो मध्य पर्वत श्रेणी है इस श्रृखला को लारजी के व्यास नदी और रामपुर के पास सतलुज नदी काटती है, धौलाधार को शवेत मुकुट भी कहा जाता है इसकी समुद्रतल से ऊंचाई 350 से 4570 मीटर है

 

पीर पंजाल पर्वत श्रृंखला

यह चम्बा जिले में है, इसकी ऊंचाई 3970 से 5470 तक है यह भी मध्य पर्वत श्रेणी में आता है

 

उच्च पर्वत श्रेणी

इसको वृहत हिमालय तथा अल्पाइन क्षेत्र के नाम से जाना जाता है इसके अंतर्गत चम्बा लाहौल स्पिति व् किनौर जिले आते हैं इसकी ऊंचाई 4500 मीटर से 7000 के बीच है

इस क्षेत्र में जास्कर पर्वत श्रृंखला भी पाई जाती है जो हिमाचल प्रदेश को तिब्बत से अलग करती है हिमाचल प्रदेश की सबसे ऊँची चोटी शिल्ला ( 7026 ) इसी पर्वत श्रृंखला में है |

 

Please Comments

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!