Fundamental Rights

हमारे मौलिक अधिकार, Fundamental Rights

मौलिक अधिकार

मौलिक अधिकार का वर्णन सविंधान में भाग – 3,  Article – 12 से 35 तक का वर्णन है, इन्हें सयुंक्त राज्य अमेरिका से लिए गया है

भाग – 3 को मेगनाकार्टा ( अधिकारपत्र ) कहा जाता है 1931 में कांग्रेस के कराची अधिवेशन में कांग्रेस ने घोषणा पत्र में मूल अधिकारों की मांग की थी

मूल अधिकारों का प्रारूप प० जवाहर लाल नेहरु ने बनाया था

मौलिक अधिकारों में संशोधन किया जा सकता है

राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान 20 और 21 Article को छोड़कर आपसे सभी अधिकार छीने जा सकते हैं

Fundamental Rights
Fundamental Rights

आरम्भ में अधिकारों की संख्या 7 थी अब सम्पति का अधिकार को 44वें संशोधन 1978 में हटाया और यह क़ानूनी अधिकार 300A में जोड़ा गया

 

  1. समानता का अधिकार ( Article 14 से 28 )

Article 14 – कानून के समक्ष समानता

Article 15 – लिंग जाती धर्म के भेदभाव पर मनाही

Article 16 – अफसरों की समानता

Article 17 – छुआछुत की समाप्ति

Article 18 – उपाधियों की समाप्ति

  1. स्तंवत्रता का अधिकार Article 19 से 22

Article 19 A – अपने विचारों की स्वतंत्रता

Article 19 B – बिना अस्त्र शस्त्र के घुमने की स्वंतत्रता

Article 19 C – संघ बनाने की स्वतंत्रता

Article 19 D – घुमने फिरने की स्वंत्रता

Article 19 E – कहीं भी निवास लेने की स्वतंत्रता

Article 19 F – इसे हटा दिया है ( यह संपति का अधिकार था )

Article 19 G – आजीविका का अधिकार

 

Article 20 –  दो सीधी के सम्बन्ध में संरक्षण, जब अपराध किया तब के कानून के अनुसार सजा

Article 21 – जीवन जीने की स्वतंत्रता

Article 21 A – 6 से 14 वर्ष के बच्चों को निशुल्क शिक्षा का अधिकार ( 86 वां संशोधन 2002 में जोड़ा गया )

Article 22 – बंदीकरण की अवस्था में संरक्षण

अगर पुलिस किसी व्यक्ति को हिरासत में लेती है तो उनको पहले हिरासत में लेने का कारण बताना होगा, 24 घंटे के अंदर कोर्ट में पेश करना होगा, जिस व्यक्ति को हिरासत में लिया है वह अपने लिए वकील भी कर सकता है

 

  1. शोषण के विरुद्ध अधिकार – Article 23 से 24

Article 23 – मनुष्य के क्रय-विक्रय पर रोक

Article 24 – 14 वर्ष से कम आयु के बच्चे के लिए काम करने पर प्रतिबन्ध

  1. धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार Article 25 से 28

Article 25 – किसी भी धर्म को मानना व उसका प्रचार करना

Article 26 – धर्म की स्थापना, संस्थानों का संचालन

Article 27 – राज्य किसी भी व्यक्ति को उसकी आय किसी भी धर्म पर खर्च कने की स्वतंत्रता देता है

Article 28 – शिक्षण संस्थानों पर धार्मिक शिक्षा पर रोक

  1. संस्कृति तथा शिक्षा सम्बन्धी अधिकार Article 29 से 30

Article 29 – अप्ल्संख्य्कों के हितों का संरक्षण

Article 30 – शिक्षण संस्थानों को खोलने तथा संचालन ( चलाने ) करने का अधिकार

  1. सवैंधानिक उपचारों का अधिकार Article – 32

कोई भी अपने अधिकारों के लिए उच्च न्यायालय तक जा सकते हैं

 

Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights, Fundamental Rights

 

1 thought on “हमारे मौलिक अधिकार, Fundamental Rights”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!